पंजाब

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पंजाब विधानसभा द्वारा करतारपुर गलियारे संबंधी प्रस्ताव आम सहमति से पारित

चंडीगढ़,

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में पंजाब विधानसभा ने सिखों के पहले गुरू श्री नानक देव जी के 550वें जन्म दिवस के समागमों के अवसर पर करतारपुर साहिब का गलियारा खुलवाने के लिए पाकिस्तान के समक्ष मामला उठाने के लिए केंद्र सरकार पर ज़ोर डालने के लिए एक प्रस्ताव आम सहमति के साथ पारित कर दिया है । यह प्रस्ताव आज विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन मुख्यमंत्री द्वारा पेश किया गया । पार्टी राह से ऊपर उठ कर सदन के सभी सदस्यों का विचार था कि यह गलियारा खुलने से भारत के लाखों श्रद्धालु ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब के दर्शन करने के समर्थ हो जाएंगे । श्री करतारपुर साहिब में पहले गुरू जी ने अपने जीवन के आखिरी वर्ष बिताऐ । श्री करतारपुर साहिब अंतरराष्ट्रीय सीमा के दूसरी तरफ पाकिस्तान में स्थित है । चाहे यह गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक से स्पष्ट तौर पर दिखाई पड़ता है । यह प्रस्ताव पेश करते हुए मुख्यमंत्री ने सदन को बताया कि उन्होंने पहले ही यह मामला केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के समक्ष एक पत्र के द्वारा उठाया है और उनको पाकिस्तान के समकक्ष के पास यह मुद्दा उठाने की विनती की है । मुख्यमंत्री ने कहा पंजाब सरकार ने भारत सरकार को यह मुद्दा इस्लामाबाद के पास उठाने के लिए बार -बार अपील की है । उन्होंने कहा कि यह गलियारा खुलने से सिख भाईचारे की तरफ से संजोए गए सपने साकार होंगे ।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

4 × five =

Most Popular

To Top