भारत

राफेल डील मामले में अगले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, डील रद करने की मांग

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को भारत और फ्रांस के बीच हुई राफेल लड़ाकू विमान डील मामले की सुनवाई को आगे बढ़ा दिया है। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के समक्ष वकील मनोहर लाल शर्मा की ओर से दाखिल जनहित याचिका पर जल्द सुनवाई की मांग की गई थी, जिसे कोर्ट ने अगले हफ्ते सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया है। याचिका में आरोप लगाया गया कि राफेल डील में भ्रष्टाचार को अंजाम दिया गया। ऐसे में इस डील को रद किया जाएं। इसके अलावा एफआइआर दर्ज करने व कानूनी कार्रवाई की मांग की गई है।
याचिका में क्या कहा गया:-याचिका में कहा गया है कि दोनों देशों (भारत और फ्रांस) के बीच हुई इस डील से भ्रष्टाचार हुआ है और ये रकम इन्हीं लोगों से वसूली जाए। याचिका में आगे कहा गया है कि ये डील अनुच्छेद 253 के तहत संसद के माध्यम से नहीं की गई है। बता दें कि ग्वालियर में प्रशिक्षण के लिए राफेल प्लेन आ भी चुके हैं।
कांग्रेस-सरकार में तकरार:-गौरतलब है कि राफेल डील को लेकर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार को घेरने में जुटी है। कांग्रेस डील में गड़बड़ी और भ्रष्टाचार होने का आरोप लगा रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तो इस सौदे की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) के गठन की मांग की उठाई है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि इस सौदे से सरकारी खजाने को 41,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। हालांकि, सरकार लगातार कांग्रेस के आरोपों को झूठा और निराधार बता रही है।दरअसल, कांग्रेस राफेल डील के जरिए अनिल अंबानी की कंपनी को फायदा पहुंचाने का आरोप लगा रही है। अनिल अंबानी की कंपनी ने कांग्रेस के इन आरोपों को सिरे से खारिज किया है और कांग्रेस पार्टी की गलत बयानबाजी को लेकर नोटिस जारी किया है। राहुल गांधी ने कहा कि वो अनिल अंबानी की धमकी से डरने वाले नहीं हैं। बता दें कि कांग्रेस केंद्र सरकार से राफेल डील की कीमत बताने की मांग कर रही है। हालांकि, सरकार समझौते के सीक्रेसी क्लॉज की वजह से दाम बताने से इनकार करती रही है।
‘हमें राफेल विमान का इंतजार’:-राफेल डील पर हो रही सियासी जंग के बीच वायुसेना के एयर मार्शल एसबी देव ने कहा, ‘मुझे टिप्पणी नहीं करनी चाहिए, लेकिन हमें लगता हैं कि लोगों को जानकारी नहीं है। हम विमान का इंतजार कर रहे हैं। राफेल सुंदर और सक्षम विमान हैं।’
राफेल क्या है?
-राफेल अनेक भूमिकाएं निभाने वाला एवं दोहरे इंजन से लैस फ्रांसीसी लड़ाकू विमान है।
-इसका निर्माण डसॉल्ट एविएशन ने किया है।
-राफेल विमानों को वैश्विक स्तर पर सर्वाधिक सक्षम लड़ाकू विमान माना जाता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

7 + 15 =

Most Popular

To Top