कांगड़ा

देश की रक्षा की हर लड़ाई में हिमाचली वीर सपूतों का बड़ा योगदान: सरवीन चौधरी

धर्मशाला  कारगिल विजय दिवस के अवसर पर वीरवार को शाहपुर के अभिनन्दन पैलेस में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया। शहरी विकास, आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सरवीन चौधरी ने कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। शहरी विकास मंत्री ने शहीदों के परिजनों और उपस्थित जन समूह के साथ शहीदों की पुण्य स्मृतियों को नमन किया और श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस मौके अपने संबोधन में सरवीन चौधरी ने कारगिल विजय दिवस के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह दिन उन सभी शहीदों को याद कर अपने श्रद्धा सुमन अर्पण करने का है जिन्होंने हंसते हंसते मातृ भूमि की रक्षा के लिए मौत को गले लगा लिया । उन्होंने कहा कि देश की रक्षा की हर एक लड़ाई में हिमाचल के वीर सपूतों का बड़ा योगदान रहा है। राज्य सरकार शहीदों के आश्रितों, वीर नारियों एवं पूर्व सैनिकों को अनेक प्रकार की सुविधाएं दे रही है । शहीदों के नाम पर सड़कें, पार्क व स्मारक इत्यादि बनाये जा रहें हैं ताकि आने वाली पीढ़ियाँ उनकी कुर्बानी को याद रखें और उनसे प्रेरणा ले सकें।उन्होंने कहा कि एर्क इंट शहीद के नाम पर कार्यक्रम के तहत प्रदेश में सामुदायिक भागीदारी तय कर भव्य शहीद स्मारक बनाये जायेंगे।
सरवीन चौधरी ने सेना के जवानों से जुड़े मामलों में तुुरंत राहत के लिए कार्यवाही करने एवं उनकी समस्याओं का त्वरित निपटारा तय कर विभिन्न सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने भी केन्द्रीय अर्ध सैनिक बलों के शहादत पाने वाले जवानों के आश्रितों को बीस लाख रुपये तथा नौकरी देने की व्यवस्था की है।
इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री ने अलग अलग अवसरों पर देश की हिफाजत में शहीद हुये शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से संबंधित वीर सैनिकों के परिजनों को सम्मानित किया । उन्होेंने डढम्ब गांव के शहीद स्वरूप कुमार की धर्मपत्नी सरोज कुमारी, रैत के शहीद अशोक कुमार की धर्मपत्नी अंजना देवी, टुृंडू के शहीद आलोक कुमार की धर्मपत्नी सोन देवी, बसनूर के शहीद हेम राज की धर्मपत्नी बिंता देवी, सिहुवॉ के शहीद संजीव राणा की धर्मपत्नी पिंकी राणा, बासा के शहीद जगदीश की धर्मपत्नी स्नेह लता, रैत के शहीद जोरवर सिंह की धर्मपत्नी सरंजना देवी को सम्मानित किया।
इस अवसर पर हिमाचल सैनिक प्रकोष्ट के अध्यक्ष सेवानिवृत ब्रिगेडियर पवन कुमार ने कहा कि वीर शहीदों ने भारतीय सेना की शौर्य बलिदान की उस सर्वोच्च परम्परा का निर्वाह किया है जिसकी सौगंध हर सिपाही तिरंगे के सामने लेता है। 26 जुलाई हर भारतीय के गर्व करने का दिन है जब हमारे वीर योद्धाओं ने कारगिल की सफेद बर्फ से ढकी पहाड़ियों पर तिरंगा फहराया था। उन्होंने सरकार से पूर्व सैनिकों को प्रशासन का हिस्सा बनाने व शिक्षण संस्थानों में परमवीर चक्र विजेता जैसे सम्मान पाने वाले सैनिकों के फोटो लगाने का निवेदन किया।
सेवानिवृत कमांडैंट महेन्द्र सिंह ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखें। भाजपा के संयोजक पूर्व सैनिक मदन शर्मा ने सभी को देश की अखंडता की शपथ दिलाई।
शहरी विकास मंत्री ने सुनी जनसमस्याएं
सरवीन चौधरी ने शाहपुर के लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह में लोगों की समस्याओं को सुना। उन्होंने अधिकतर समस्याओं का मौके पर समाधान कर दिया तथा शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर लोगों की समस्याओं का निपटारा करें ताकि लोगों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।
इस अवसर पर शहीदों के परिजन, बीडीसी के अध्यक्ष विजय, शाहपुर भाजपा मंडलाध्यक्ष अश्वनी शास्त्री, महासचिव अमरीश परमार, शाहपुर की प्रधान अरूणा देवी, दीपक अवस्थी, राकेश मनु, तिलक शर्मा, विजय बतरा, मदन शर्मा, सतीश कुमार, अश्वनी चौधरी, राकेश चौहान सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व शाहपुर विधानसभा की पंचायतों के प्रधान, उपप्रधान तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

12 − four =

Most Popular

To Top