पंजाब

पी.एस.पी.सी.एल. और पी.एस.टी.सी.एल. के कर्मचारियों की पदोन्नती संबंधी बिजली मंत्री द्वारा कमेटी के गठन से ज़्यादा जूनियर इंजीनियर्ज को जे.ई. (1) के तौर पर किया जायेगा पदोन्नत

चंडीगढ़,
पंजाब राज्य पावर निगम लिमटिड (पी.एस.पी.सी.एल.) और पंजाब राज्य ट्रांसमिशन निगम लिमटिड (पी.एस.टी.सी.एल.) के कर्मचारियों की पदोन्नती संबंधी पैदा हुए झगड़े को समाप्त करने के लिए पंजाब के बिजली मंत्री श्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ द्वारा पी.एस.पी.सी.एल. और पी.एस.टी.सी.एल. के डायरैक्टर स्तर के अधिकारियों सहित आधारित कमेटी का गठन किया गया है जोकि दोनों संस्थाओं के कर्मचारियों की पदोन्नती से सम्बन्धित झगड़ों का निपटारा करेगी। आज यहां पंजाब सिवल सचिवालय में ग्रिड सब स्टेशन इम्पलायज़ यूनियन के प्रतिनिधियों की पंजाब के बिजली मंत्री श्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ के साथ मुलाकात की गई, जिस दौरान यूनियन द्वारा पंजाब स्टेट ट्रांसमिशन निगम लिमटिड में एग्रीमेंट के अंतर्गत काम कर रहे पी.एस.पी.सी.एल. के कर्मचारियों और पी.एस.टी.सी.एल. में नये भर्ती हुए कर्मचारियों के बीच झगड़ो के कारण तरक्की में ठहराव आ जाने संबंधी बिजली मंत्री को अवगत करवाया गया। श्री कांगड़ ने कहा कि कर्मचारियों की माँगें जायज हैं और जितनी जल्दी हो सके इन माँगों का हल किये जाने की ज़रूरत है। श्री कांगड़ ने सम्बन्धित मुद्दों के निपटारे के लिए गठित कमेटी को एक महीने में रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए। यूनियन को तुरंत राहत देते हुए मंत्री ने 15 दिनों के अंदर जूनियर इंजीनियर्ज (1) की 100 से अधिक खाली पड़े विवाद रहित पदों को मौजूदा जूनियर इंजीनियरज़ की तरक्की के द्वारा भरने का वायदा किया। गौरतलब है कि पिछले समय के दौरान पी.एस.पी.सी.एल. में 1889 अलग-अलग पद भरने के साथ-साथ तरस के आधार पर 153 व्यक्तियों को नियुक्ति पत्र दिए गए हैं। इसके इलावा पी.एस.पी.सी.एल. में 488 अन्य पदों की भर्ती प्रक्रिया कार्यवाही अधीन है। इस अवसर पर दूसरो के इलावा इंजीनियर बलदेव सराय, सी.एम.डी., पी.एस.पी.सी.एल., श्री ए. वेणंू प्रसाद, प्रमुख सचिव बिजली, श्री आर.पी. पांडोव, डायरैक्टर (प्रशासक) पी.एस.पी.सी.एल.वी मौजूद थे।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

five − four =

Most Popular

To Top