पंजाब

भविष्य में यदि कोई भी अवैध कालोनी विकसित हुई तो अधिकारियों और कालोनाईजऱों के खि़लाफ़ सख्त कार्यवाही की जायेगी- तृप्त बाजवा

आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री ने कालोनाईजऱों और सीनियर अधिकारियों के साथ की मीटिंग
चंडीगढ़ – आवास निर्माण और शहरी विकास विभाग के अधिकारी किसी भी अनाधिकृत कालोनी के विस्तार को रोकने के लिए अपने अधिकार क्षेत्रों में नियमित तौर पर नजऱ रखेंगे। इसका प्रगटावा आवास निर्माण और शहरी विकास मंत्री श्री तृप्त रजिन्दर सिंह बाजवा ने आज यहां समूह कालोनाईजऱों और अधिकारियों की समीक्षा मीटिंग के दौरान किया। उन्होंने सीनियर अधिकारियों को अपने फील्ड स्टाफ को ज़मीनी स्थिति पर नियमित तौर पर नजऱ रखने के निर्देश दिए जिससे राज्य में अवैध कलोनियों की इस समस्या को पूरी तरह से ख़त्म किया जा सके। श्री बाजवा ने कहा कि कार्यवाही सिफऱ् अधिकारियों के खि़लाफ़ ही नहीं की जायेगी बल्कि उन कालोनाईजऱों के विरुद्ध भी सख्त कदम उठाए जाएंगे जो अनाधिकृत कालोनी की स्थापना के लिए यत्न करेंगे।
मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के सूझ-बूझ भरे नेतृत्व अधीन पंजाब सरकार राज्य में योजनाबद्ध विकास के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि नई नीति अधीन अनाधिकृत कालोनाईजऱों को ‘वन टाईम सेटलमेंट ऑफर’ की सुविधा प्रदान की गई है और उन्होंने के साथ ही यह भी स्पष्ट किया कि भविष्य में किसी को ऐसी राहत की आशा नहीं रखनी चाहिए।
मीटिंग के दौरान मंत्री ने रियल अस्टेट डिवैलपरज़ को राज्य में योजनाबद्ध और मानक विकास के लिए लिखित पेशकारी देने के लिए कहा। श्री बाजवा ने मीटिंग के दौरान राज्य भर के कालोनाईजऱों की माँगों जैसे इमारती नियमों में संशोधन, लाईसेंसिंग फीस की तर्कसंगतता, डिफालटरों के लिए पाबंदी, मामलों के तुरंत निपटारेे और प्रवानगियों आदि से संबंधित माँगों को ध्याान से सुना। उन्होंने कहा कि यह सुझाव मुख्यमंत्री के साथ मीटिंग में विचार के लिए रखे जाएंगे। उन्होंने राज्य के लोगों के कल्याण हित सभी जायज सुझावों को लागू करने का भरोसा दिलाया।
श्री बाजवा ने कलोनाईजऱों को पूरा भुगतान कर चुके अलाईयों को प्लाटों और फ्लैटों के कब्ज़े देने के लिए भी कहा। ऐसा न करन की सूरत में उन कलोनाईजऱों को सख्त कार्यवाही की चेतावनी भी दी और कहा कि पंजाब सरकार कालोनाईजऱों के हाथों आम लोगों की किसी भी किस्म की अनावश्यक परेशानी को सहन नहीं करेगी।
मीटिंग में दूसरो के अलावा गुरनीत तेज मुख्य प्रशासक पुड्डा /गमाडा, श्री अकाश गोयल, अतिरिक्त मुख्य प्रशासक (एफ एंड ए), श्री राजेश धीमान अतिरिक्त मुख्य प्रशासक, गमाडा, श्री गुरप्रीत सिंह मुख्य टाऊन प्लानर पंजाब और कनफैडरेशन ऑफ रियल अस्टेट डिवैलपरज़ एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मैंबर शामिल थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen − six =

Most Popular

To Top