भारत

देश के कई इलाके भारी बारिश से बदहाल

देश के कई इलाके इस वक्त भारी बारिश से बदहाल है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कल शाम कई इलाकों में ज़बरदस्त बारिश हुई, जिसके कारण तापमान गिरकर 34 दशमलव 6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। जोरदार बारिश के चलते शहर में कई जगहों पर जलभराव तथा ट्रैफिक जाम हो गया जिसके कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग ने आज भी शहर में कई इलाकों में हल्की बारिश की संभावना जताई है। उत्‍तर प्रदेश में भी लगातार हो रही बारिश और बाढ़ से कई लोगों की मौत हो गई है। राज्‍य के कई हिस्सों में पांच लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। मुख्‍यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण के बाद कहा कि वर्षा और बाढ़ के कारण जिनके मकान गिर गए हैं, उन्‍हें प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत मकान दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने बस्ती के दुगौलिया में उन्होंने प्रभावित लोगों के बीच राहत सामग्री भी बांटी।

उधर ओडिसा में बंगाल की खाड़ी पर कम दबाव होने के कारण पिछले 24 घंटों के दौरान पारादीप, केन्‍द्र पाड़ा, जगतसिंह पुर में भारी बारिश रिकॉर्ड की गई है। कटक, भुवनेश्‍वर मेट्रो सिटी और केन्‍द्र पाड़ा के अधिकांश निचले इलाकों में पानी भर गया है। कटक में कल स्‍कूल बंद रहे। अखुआपाड़ा में दोपहर बाद बैतरणी नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।  उत्तराखंड में हुई भारी बारिश का असर अब उत्तरप्रदेश के कई इलाकों में बाढ़ के रूप में दिख रहा है,, प्रदेश के विभिन्‍न हिस्‍सों में वर्षा से जुड़ी घटनाओं में कम से कम नौ लोगों की मौत हो गई। एक सितम्‍बर से राज्‍य में वर्षा-जनित मौतों की संख्‍या बढ़कर अब 58 हो गई है। उत्‍तर प्रदेश राहत आयुक्‍त ने एक बयान में कहा कि बारिश के कारण फैजाबाद में तीन व्‍यक्ति मारे गये और उन्‍नाव में दो व्‍यक्तियों की मृत्‍यु हुई। ओरैया,, हरदोई, मेरठ और एटा में एक-एक व्‍यक्ति की मृत्‍यु हुई। राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ग्रस्त बस्ती जिले का हवाई सर्वेक्षण किया, बस्ती के दुगौलिया में उन्होंने प्रभावित लोगों के बीच राहत सामग्री भी बांटी। योगी ने कहा कि राज्य सरकार पूरी संवेदनशीलता से पीड़ितों की मदद कर रही है इससे पहले बुधवार को प्रदेश के हरदोई जिले में आसमान से आयी आफ़त से  दिवार गिरने की घटनाओ में 5  लोगों की मौत हो गयी,  जबकि 4 घायल हुए हैं, वहीं आकाशीय बिजली से 2 किसानो की मौत हो गयी और  एक शख्स घायल है। इस तरह कुल 7 लोगों की मौत हो गयी जबकि 5 लोग घायल हैं।

झारखंड में विगत 24 घंटे से दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के सक्रिय होने की वजह से रांची सहित राज्य के अधिकांश हिस्सों में  गुरुवार को मध्यम से तेज बारिश दर्ज की गई, बिरसा मुण्डा मौसम विज्ञान केंद्र, रांची के पूर्वानुमान के मुताबिक अगले 24 घंटे के दौरान रांची समेत राज्य के सभी जिलों में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। वहीं एक-दो स्थानों पर वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गयी है। वहीं मध्प्रदेश में एक बार फिर तेज बौछारें पड़ने की संभावना है। गुरुवार को बंगाल की खाड़ी में एक लो प्रेशर एरिया बन रहा है। यदि यह स्ट्रांग रहा तो तेज बारिश हो सकती है। गुरुवार सुबह राजधानी भोपाल सहित राज्‍य के कई हिस्‍सों में हल्‍की बौछारें पड़ीं। यह क्रम दोपहर तक चलता रहा, जिससे मौसम में ठंडक बढ़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार उत्तराखंड के कुमाऊ में अनेक स्थानों पर और गढ़वाल में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है। वहीं हिमाचल प्रदेश के शिमला, सोलन, मंडी और बिलासपुर में गरज के साथ छींटे पड़ने की आशंका है, वहीं उड़ीशा , पश्चिम बंगाल, झारखंड और छत्तीसगढ़ में अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

12 − 9 =

Most Popular

To Top