पंजाब

मुख्यमंत्री द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक व्यक्त

सम्मान के तौर पर सभी सरकारी कार्यालयों और शिक्षा संस्थाओं में शुक्रवार को छुट्टी का एलान
चंडीगढ़,
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर दु:ख ज़ाहिर करते उनको कदावर शख्सियत करार दिया जो युवा राजनीतिज्ञों को कदरों -कीमतों पर आधारित राजनैतिक मार्ग अपनाने के लिए प्रेरित करने के लिए हमेशा प्रकाश स्तम्भ रहेंगे। पंजाब सरकार ने श्री वाजपेयी के सम्मान में शुक्रवार को सभी सरकारी कार्यालयों, बोर्डों, निगमों और अन्य सार्वजनिक अदारों के इलावा शिक्षा संस्थाएं बंद रखने का एलान किया है। राज्य सरकार ने भारत सरकार की तजऱ् पर श्री वाजपेयी जी की याद में सरकारी शोक का एलान किया है। एक शौक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री वाजपेयी जी बहु-समर्थकी शख्सियत के मालिक और सुझवान मनुष्य थे। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री एक सच्चे राजनीतिज्ञ, महान विद्वान, प्रसिद्ध कवि होने के साथ-साथ लाखों देश निवासियों के दिलों की धडक़न थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री वाजपेयी जी के प्रधानमंत्री के तौर पर कार्यकाल को प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना, सर्व शिक्षा अभियान, टेलीकॉम क्रांति और वित्तीय जवाबदेही एक्ट जैसी लीक से हटकर पहलकदमियां करने के तौर पर सदा याद रखा जायेगा जिन्होंने भारत की तकदीर बदल दी। श्री वाजपेयी के साथ निजी सांझ को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘प्रधानमंत्री के तौर पर श्री वाजपेयी जी के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ उनकी राजनैतिक विभिनताएं के बावजूद बहुत गहरे रिश्ते होते थे और वह बिना किसी क्षेत्रीय पक्षपात के सभी के साथ बराबरी का व्यवहार करते थे।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अमन-शान्ति, सांप्रदायिक सद्भावना और राष्ट्रीय एकता की जड़ो को और मज़बूत बना कर भारतीय राजनीति और सांसारिक स्तर पर अपनी अमिट छाप छोड़ी।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × five =

Most Popular

To Top