मंडी

डेयरी विकास पर एक दिवसीय कार्यषाला का आयोजन

मण्डी – राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक {नाबार्ड} द्वारा आज यहां सौली खड्ड में बैंक अधिकारियों, पशुपालन विभाग, संभावित लाभार्थियों एवं मण्डी साक्षरता एवं जन विकास समिति, के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया । कार्यशाला का मुख्य उद्देष्य डेयरी उद्यमिता विकास योजना को लाभार्थियों तक पहुंचाना है । योजना के अंतर्गत स्वरोजगार पैदा करने हेतु डेयरी ढांचागत विकास, आधुनिक और साफ सुथरे डेयरी उत्पाद तैयार करना, अच्छी नस्ल के दूधारू पशुओं , दूध उत्पादों की प्रोसेसिंग, दूध के उत्पादों में गुणवत्ता लाने जैसी गतिविधियां शामिल हैं । जिला विकास प्रबन्धक, राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास, एम. पी. शर्मा ने कहा कि योजना के तहत 10 दुधारू पशुओं के लिए 7 लाख रु तथा कम से कम 2 पशुओं के लिए बैंकों से ऋण दिया जाएगा । इसमें पशु खरीदने, चारा, पशु शेड, फीड ,दवाई, मिल्क पार्लर इत्यादि के लिए सामान्य जाति के पात्र पषु पालकों को 25 प्रतिशत तथा अनुसूचित जाति के लिए 33 प्रतिशत सहायता राशि नाबार्ड सब्सिडी के रूप में अदा करेगा । इस मौके पर हिमाचल ग्रामीण बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक,पंजाब नेशनल बैंक के एल डी एम, भारतीय स्टेट बैंक, हिमाचल ग्रामीण बैंक, राज्य सहकारी बैंक, पंजाब नेशनल बैंक के अधिकारियों, पशुपालन विभाग के सहायक निदेशक ब अन्य अधिकारियों सहित पषु पालकों ने भाग लिया ।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

fifteen − one =

Most Popular

To Top