पंजाब

कैप्टन अमरिन्दर ने 6000 करोड़ रुपए वाली अटल भूजल योजना में पंजाब को शामिल करने के लिए प्रधानमंत्री को पत्र लिखा

चंडीगढ़ – पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिख कर भूजल के संसाधनों के संरक्षण के लिए 6000 करोड़ रुपए वाली ‘अटल भूजल योजना’ में पंजाब को शामिल करने की मांग की हैमुख्यमंत्री ने अपने पत्र में पंजाब को इस स्कीम में से बाहर रखने की मीडिया रिपोर्टों का जि़क्र करते हुये पंजाब को इस स्कीम में शामिल करने के लिए जल शक्ति मंत्रालय को निर्देश देने के लिए प्रधानमंत्री को विनती की है।जि़क्रयोग्य है कि जल शक्ति संबंधी मंत्रालय द्वारा भूजल के संरक्षण सम्बन्धी 6000 करोड़ रुपए वाली नयी अटल भूजल योजना के लिए 7 राज्यों का चयन किया गया है। यह स्कीम गुजरात, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश जैसे 7 राज्यों में पड़ते पानी की किल्लत वाले 8350 गांवों में लागू करने की प्रस्ताव है।पंजाब में भूजल के गिरते स्तर की दर को देखते हुये पंजाब को इस स्कीम में से शामिल न करने पर हैरानी और चिंता ज़ाहिर करते हुये कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने इस बात पर ज़ोर दिया कि राज्य के 22 जिलों में से 20 जिले भूजल के गिरते स्तर की गंभीर समस्या का सामना कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय द्वारा इस साल के शुरू में इन जि़लों का दौरा करने के लिए अधिकारियों को नियुक्त करके जिम्मा सौंपा गया था। उन्होंने बताया कि सैंट्रल ग्राऊंडवॉटर बोर्ड की ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार राज्य के 3/4 से ज़्यादा ब्लॉकों को पानी की किल्लत से प्रभावित घोषित किया गया है जिनमें कुछ की स्थिति काफ़ी नाजुक है।मुख्यमंत्री ने लिखा कि मुझे इन तथ्यों पर जोर देकर बताने की ज़रूरत नहीं कि पंजाब के पास प्राकृतिक साधन के रूप में भूजल का स्तर बहुत गिर चुका है। उन्होंने कहा कि पंजाब को देश के लिए अनाज सुरक्षा यकीनी बनाने के लिए कृषि, विशेषत: धान की पैदावार के लिए अपने अमूल्य प्राकृतिक साधन की कीमत चुकानी पड़ी।मुख्यमंत्री ने आगे बताया कि सतही पानी की उपलब्धता में भी पिछले कुछ दशकों के दौरान कमी आई है। इस तथ्य के आधार पर जल संरक्षण के लिए तत्काल मदद के लिए पंजाब का मज़बूत केस बनता है।कैप्टन अमरिन्दर ने याद करते हुये कहा कि उन्होंने इस मसले की तरफ पहले भी प्रधानमंत्री का ध्यान दिलाया था और जल संसाधनों के संरक्षण के लिए केंद्रीय सहायता की मांग की थी। उन्होंने श्री मोदी से अपील की कि भूजल का स्तर गिर जाने से पैदा हुई स्थिति के मद्देनजऱ केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय को अटल भूजल योजना में पंजाब को भी तुरंत शामिल करने के लिए ज़रूरी हिदायतें जारी करें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

13 + twelve =

Most Popular

To Top