पंजाब

पंजाब को खदानों की ई-नीलामी से रिकॉर्ड कमाई

कुल 7 में से 6 कलस्टरों से कमाए 274.75 करोड़ रुपए

चंडीगढ़ – पंजाब सरकार को कुल 7 खनन कलस्टरों में से 6 कलस्स्टरों की ई-नीलामी से 274.75 करोड़ रुपए की आय हुई है। मोहाली कलस्टर की नीलामी होनी अभी बाकी है।पंजाब के खनन मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया ने जानकारी देते हुए बताया कि पंजाब सरकार ने खनन से 300 करोड़ रुपए की कमाई का लक्ष्य बनाया था। 6 कलस्टरों की नीलामी से हुई कमाई के बाद इस लक्ष्य की 90 प्रतिशत पूर्ति कर ली गई है और उम्मीद है कि मोहाली की नीलामी के बाद राज्य सरकार को खनन से रिकॉर्ड कमाई होगी।विभिन्न कलस्टरों संबंधी सरकारिया ने बताया कि रोपड़ कलस्टर से 49.84 करोड़ रुपए की कमाई की जबकि एसबीएस नगर-लुधियाना-जालंधर कलस्टर की नीलामी 59.02 करोड़ रुपए में हुई। इसी तरह फिऱोज़पुर-मोगा-फऱीदकोट कलस्टर से सरकार को 40.30 करोड़ रुपए की कमाई हुई और होशियारपुर-गुरदासपुर कलस्टर 29.01 करोड़ रुपए में नीलाम हुआ। उन्होंने आगे बताया कि अमृतसर-तरन तारन-कपूरथला कलस्टर की नीलामी 34.40 करोड़ रुपए में जबकि पठानकोट कलस्टर से सरकार को 62.18 करोड़ रुपए का रेवन्यू प्राप्त हुआ है। इस तरह इन 6 कलस्टरों से कुल 274.75 करोड़ रुपए की कमाई हुई है। उन्होंने बताया कि जिन कलस्टरों में खनिज पदार्थ जैसे कि रेत-बजरी की भरमार है, उनकी बोली दूसरे कलस्टरों के मुकाबले ऊँची गई है। एक प्रवक्ता के अनुसार इससे पहले कभी भी खनन से सालाना आय 38-40 करोड़ रुपए से ऊपर नहीं हुई थी परन्तु मौजूदा कांग्रेस सरकार की पारदर्शी और जन समर्थकीय नीतियों के कारण जहाँ रेत-बजरी से सरकार की आय में वृद्धि हुई है वहीं आम लोगों को भी सस्ती रेत-बजरी मुहैया करवाने के सार्थक यत्न किये गए हैं। जि़क्रयोग्य है कि पंजाब में रेत की कीमतों को बढऩे से रोकने के लिए सीमा निर्धारित की हुई है और कोई भी ठेकेदार खदानों पर प्रति 100 फुट के 900 रुपए से ज़्यादा नहीं ले सकता।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × three =

Most Popular

To Top