जीवन शैली

इनवैस्ट पंजाब ने योग दिवस के मौके पर स्वास्थ्य और मैडीकल टूरिज़्म सम्बन्धी करवाई कॉनफ्रैंस

पंजाब सांसारिक नक्शे पर जल्द ही मैडीकल टूरिज़्म का केंद्र बनेगा-बलबीर सिंह सिद्धू

चंडीगढ़ – यह बहुत ही दुख की बात है कि आधुनिक युग में हर कोई तनाव और चिंताओं से घिरा हुआ है, इन मानसिक और शारीरिक परेशानियों से राहत पाने का सबसे आसान रास्ता योग है। एक व्यक्ति को शारीरिक, मानसिक और आर्थिक तौर पर हृष्ट-पुष्ट बनाने के लिए योग की अति महत्वपूर्ण भूमिका है। योग को रोज़मर्रा की आदत बना कर राज्य के हरेक व्यक्ति को योग की तरफ प्रेरित करने के लिए पंजाब सरकार एक प्रमुख प्रोग्राम की शुरुआत कर रही है। यह बात स. बलबीर सिंह सिद्धू, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री पंजाब ने यहाँ होटल माऊंटव्यू सैक्टर -10 चंडीगढ़ में स्वास्थ्य और मैडीकल टूरिज़्म पर करवाई गई अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कॉनफ्रैंस के उद्घाटन के बाद कही। यह कॉनफ्रैंस योग दिवस के मौके पर इनवैस्ट पंजाब द्वारा आई.सी.एस.आई. (इंटरनेशनल चेंबर फॉर सर्विस इंडस्ट्री) के सहयोग से करवाई गई। पंजाब को मैडीकल टूरिज़्म हब्ब बनाने के लिए रचनात्मक माहौल का सृजन करने सम्बन्धी विचार-विमर्श के लिए इस कॉनफ्रैंस में यू.एस.ए., ब्रिटेन, थाईलैंड, बड़े औद्योगिक घरानों, कॉर्पोरेट, पोटैंशियल इनवैस्टरज़ और वैल्लनैस्स इंडस्ट्री के नीति निर्माताओं ने भाग लिया। उद्घाटनी भाषण में स. बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि आधुनिक युग में हरेक व्यक्ति मकैनिकल बनता जा रहा है और हर कोई शारीरिक कसरत करने से टालमटोल करता है जो कि हरेक समस्या की जड़ है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति किसी तरह की कसरत या योग कर रहा है वह दूसरों की अपेक्षा ज़्यादा समर्थ और कुशल है। उन्होंने श्रोताओं को पुराने दिनों संबंधी याद करवाया जब हमारे बड़े-बुजुर्ग अधिक- से- अधिक शारीरिक काम करके और घरेलू औरतें रोज़मर्रा का काम खुद अपने हाथों से करते हुए किस तरह से सेहतमंद जीवन जीते थे जबकि इसके उलट आज कल हर कोई कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल और अन्य तरह के इलैक्ट्रानिक उपरकणों या काम के लिए दूसरी मशीनों पर निर्भर है जिससे उनके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा है। उन्होंने ऐलान किया कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने योग से सम्बन्धी खाली पड़ी असामियों को पहल के आधार पर भरने का फ़ैसला किया है जिससे इन असामियों पर माहिरों की भर्ती करके लोगों की योग में अधिक- से- अधिक सम्मिलन को यकीनी बना कर तंदुरुस्ती की तरफ उनको प्रेरित किया जा सके। स्वास्थ्य मंत्री ने पंजाब में मैडीकल टूरिज़्म के लिए सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम शुरू करने सम्बन्धी भी मंजूरी दी। इस मौके पर स. बलबीर सिंह सिद्धू द्वारा मैडीकल टूरिज़्म की भी शुरुआत की गई। इसके साथ ही हाइब्रिड एप एम.एच.टी. और वैल्लनैस्स और स्वास्थ्य इंडस्ट्री पर केंद्रित उत्तरी भारतीय के ई -मैगज़ीन माईहैल्थ ट्रिप का पहला संस्करन भी लांच किया गया। श्री डी.के. तिवाड़ी, प्रमुख सचिव, तकनीकी शिक्षा की अध्यक्षयता अधीन कॉनफ्रैंस के दूसरे सैशन के दौरान राज्य में वैलनैस्स और मैडीकल टूरिज़्म इंडस्ट्री को बढ़ावा देने सम्बन्धी विचार-विमर्श किया गया। श्री तिवाड़ी ने कहा कि चाहे पंजाब ने वैल्लनैस्स और टूरिज़्म इंडस्ट्री के क्षेत्र में पिछले 10 सालों के अंदर काफ़ी सफलता हासिल की है परन्तु पंजाब की मैडीकल इंडस्ट्री को सांसारिक नक्शे पर और उभरने में और ज्य़ादा सहायक हो सकता है। उन्होंने कहा कि वैल्लनैस्स और मैडीकल टूरिज़्म इंडस्ट्री विद्यार्थियों को अच्छी आमदन कमाने के लिए और ज्य़ादा मौके प्रदान कर सकती है। उन्होंने कहा कि 12वीं कक्षा का विद्यार्थी भी 3 महीने का प्रमाणित पाठ्यक्रम करने के बाद इस इंडस्ट्री में नौकरी हासिल कर सकता है। उन्होंने कहा कि कौशल विकास मिशन पंजाब विद्यार्थियों को ऐसे 33 अलग- अलग पाठ्यक्रम उपलब्ध करवा रहा है। प्रो. कैम्पन श्रीवातनाकुल, थाईलैंड अलटरनेटिव मैडिसन नैटवर्क (टी.ए.एम.एन.), अध्यक्ष और सी.ई.ओ., विटा स्टैम, प्रसिद्ध वैल्लनैस्स माहिर और मिस सिसोपा रीवाथना, थाईलैंड से प्रसिद्ध वैल्लनैस्स माहिर इस कॉनफ्रैंस में विशेष मेहमान के तौर पर शामिल हुए।
इस उद्घाटनी सैशन में, डा. अजैअता चन्ना द्वारा योग के मूलभूत आसन प्रतीभागियों को करवाए गए। श्री रजत अग्रवाल, आई.ए.एस.-सी.ई.ओ. इनवैस्ट पंजाब, पंजाब सरकार ने इस कॉनफ्रैंस में सम्मिलन करने के लिए प्रत्येक का धन्यवाद किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

18 + 8 =

Most Popular

To Top