संसार

आतंक के खिलाफ जंग में फ्रांस भारत के साथ

फरवरी 2019 में पुलवामा हमले को देखते हुए फ्रांस ने आतंकी हमले की निंदा की थी और आतंक के खिलाफ भारत के समर्थन में खड़ा नज़र आया फ्रांस के राजदूत अलेक्‍जेंडर जिगलर ने कहा है कि संयुक्‍त राष्‍ट्र द्वारा जैश-ए-मोहम्‍मद सरगना मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी की सूची में शामिल करना आतंकवाद के खिलाफ भारत की लड़ाई में अंतर्राष्‍ट्रीय समुदाय के मजबूत समर्थन का एक ठोस उदाहरण है। जिगलर ने कहा कि फरवरी 2019 में पुलवामा हमले को देखते हुए फ्रांस ने आतंकी हमले की निंदा करते हुए संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद से गारंटी लेने में अपनी कोशिशों को कम नहीं किया था। यह एक महत्‍वपूर्ण राजनीतिक कदम था, तभी मसूद अजहर को आतंकवादियों की सूची में शामिल कराने पर बहस हो पाई।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

12 + sixteen =

Most Popular

To Top