पंजाब

भारतीय वायु सेना के हलवारा स्टेशन मे नये सिविल अंतरराष्ट्रीय हवाई टर्मिनल के लिए पंजाब सरकार द्वारा ए.ए.आई के साथ समझौते पर हस्ताक्षर

अमृतसर हवाई अड्डे पर कार्गो टर्मिनल चलाने और रख-रखाव के लिए एक और समझौते पर हस्ताक्षर
चंडीगढ़ – भारतीय वायु सेना के स्टेशन हलवारा (लुधियाना) में एक नया सिविल अंतरराष्ट्रीय हवाई टर्मिनल स्थापित करने की परवानगी देने के लिए मंत्री मंडल की तरफ से 3 दिसंबर, 2018 को लिए गए फ़ैसले के संदर्भ में पंजाब सरकार ने आज एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ए.ए.आई) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं। इस सहमति पत्र पर पंजाब सरकार की तरफ़ से शहरी उड्डयन सचिव तेजवीर सिंह और ए.ए.आई की तरफ़ से ए.ए.आई के कार्यकारी डायरैक्टर जी. डी गुप्ता ने पंजाब के मुख्य सचिव करण अवतार सिंह और ए.ए.आई के चेयरमैन गुरप्रसाद मोहापात्रा की हाजिऱी में हस्ताक्षर किये गए। इसकी विस्तृत जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि यह प्रोजैक्ट एक ज्वायंट वैंचर कंपनी (जे.वी.सी) के द्वारा लागू किया जायेगा जिसमे अधिक हिस्सेदारी 51 प्रतिशत ए.ए.आई की है जबकि ग्रेटर लुधियाना विकास अथॅारिटी (गलाडा) के द्वारा राज्य सरकार की हिस्सेदारी 49 प्रतिशत है।प्रवक्ता ने आगे बताया कि नया हवाई अड्डा विकसित करने के लिए सारा पूँजी खर्चा ए.ए.आई द्वारा वहन किया जायेगा जबकि पंजाब सरकार प्रेाजैक्ट के लिए सभी रुकावटें मुक्त करने के अलावा 135.54 एकड़ ज़मीन मुफ़्त में मुहैया करवाएगी। प्रवक्ता के अनुसार इसको चलाने, प्रबंधन और रख -रखाव का खर्चा जे.वी.सी वहन करेगी।उम्मीद है कि 135.54 एकड़ क्षेत्रफल पर नये अंतरराष्ट्रीय सिविल इन्क्लेव के पहले पड़ाव का काम तीन सालों में हवाई जहाजों की कोड 4-सी टाईप की उड़ानों के लिए मुकम्मल हो जायेगा।लुधियाना में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा सिफऱ् व्यापारिक उड़ानों के लिए ही नहीं होगा बल्कि राज्य में हवाई यात्रियों को हवाई संपर्क की बढिय़ा सहूलतें भी मुहैया करवाएगा। इससे राज्य के उद्योग को भी लाभ पहुँचेगा।अमृतसर हवाई अड्डे पर कार्गो टर्मिनल को चालू करने और रख -रखाव के लिए पंजाब सरकार और ए.ए.आई. कार्गो लौजिस्टिक्स एंड अलाईड सर्विसिज कंपनी लिमिटड के दरमियान एक और एम.ओ.यू. सहीबद्ध किया गया। इस एम.ओ.यू. के मुताबिक साल 2013 से चालू अमृतसर हवाई अड्डे पर बने जल्दी खऱाब हो जाने वाले पदार्थों (पैरिशेबल कार्गो सैंटर) की संभाल वाले सैंटर को ए.ए.आई. की तरफ से अपने अधीन लिया जायेगा। प्रवक्ता ने बताया कि इससे पंजाब और इसके पड़ोसी राज्यों से कृषि पदार्थों के निर्यात को उत्साह मिलेगा क्योंकि यहाँ कार्गो उड़ानों के नज़दीक भविष्य में शुरू होने की उम्मीद है। पंजाब एग्रो के एम.डी. श्री सी. सिबन और ए.ए.आई. कार्गो लौजिस्टिक्स एंड अलाईड सर्विसिज के सी.ई.ओ. श्री केकू बोमी गाज़दार ने एम.ओ.यू. आपस में साझा किया।इस मौके पर उपस्थित प्रमुख शख़्िसयतों में अतिरिक्त मुख्य सचिव (उद्योग) विन्नी महाजन, अतिरिक्त मुख्य सचिव (विकास) विसवाजीत खन्ना, शहरी और योजनाबंदी डायरैक्टर गुरनीत तेज, लुधियाना के डिप्टी कमिशनर प्रदीप अग्रवाल, गलाडा के मुख्य प्रशासक श्री पी.एस. गिल और डायरैक्टर शहरी उड्डयन गिरीश दयालन, मोहाली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के सी.ई.ओ. सुनील दत्त और संयुक्त जी.एम. (ईजी.) अशोक कुमार उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

15 − 3 =

Most Popular

To Top