संसार

पंजाब के मुख्यमंत्री द्वारा इजराइल के राष्ट्रपति के साथ जल प्रबंधन और मातृभूमी सुरक्षा सम्बन्धी प्रौद्यौगिकी बारे विचार-विमर्श

पहले विश्व युद्ध के दौरान हायफ़ा सेमैट्री में शहीद भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजली भेंट
जेरूसलम – पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने मंगलवार को इजराइल के राष्ट्रपति रूवेन रिवलिन के साथ मीटिंग के दौरान द्विपक्षीय हितों से सम्बन्धित विभिन्न विषयों पर विचार-विमर्श किया । उन्होंने जल प्रबंधन, कृषि और मातृभूमि सुरक्षा प्रौद्यौगिकी जैसे मुख्य क्षेत्रों में इजराइल के तकनीकी सहयोग और समर्थन की आकांक्षा की ।
मुख्यमंत्री आज सुबह जेरूसलम में राष्ट्रपति रूवेन रिवलिन को उनके निवास स्थान पर मिले और दोनों नेताओं ने दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक तौर पर नज़दीकी संबंधों को आगे और मज़बूत बनाने सम्बन्धी विचार विमर्श किया । इस दौरान पंजाब के जल प्रबंधन और सुरक्षा जैसे गंभीर क्षेत्रों में इजराइल के ज्ञान और महारत का प्रयोग संबंधी विशेष ध्यान केंद्रित किया गया ।
राष्ट्रपति ने रेगिस्तान वाले इजराइल को कृषि वाले देश में बदलने के लिए पानी प्रबंधन के बुद्धिमत्ता भरे तजुर्बों को साझा किया । इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने पंजाब में भूजल के स्तर के लगातार नीचे जाने को रोकने के लिए ज़रूरी कदम उठाए जाने की ज़रूरत बारे अपने विचार प्रकट किये । उन्होंने पानी के बढिय़ा प्रबंधन और संरक्षण की ज़रूरत पर ज़ोर दिया । राष्ट्रपति ने यह बात मानी कि भारत में पानी की समस्या बढ़ रही है । यह मुद्दा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनके साथ विचार विमर्श के दौरान उठाया था । उन्होंने पानी को पीने योग्य बनाने के लिए पानी का खारापन निकालने हेतु सुझाव दिया जिस तरह कि इजराइल में किया जा रहा है । इजराइल ने ऐसा अलग -अलग नवीनतम प्रौद्यौगिकी के साथ किया है।
पंजाब से ईष्र्या रखने वाले पड़ोसी का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने मातृभूमी सुरक्षा के क्षेत्र में इजराइल के ज्ञान और प्रौद्यौगिकी को अपनाए जाने की ज़रूरत पर भी ज़ोर दिया । राष्ट्रपति ने कहा कि वह इस सम्बन्ध में हर संभव सहायता पंजाब सहित भारत को मुहैया करवाने के लिए उत्सुक हैं ।
दोनों नेताओं ने भारतीय सेना द्वारा हायफ़ा की मुक्ति सम्बन्धी शताब्दी समारोह बारे भी विचार-विमर्श किया । मुख्यमंत्री ने बाद में हायफ़ा की जंग के शहीदों की याद में बने कॉमनवैल्थ सेमेट्री का भी दौरा किया और पहले विश्व युद्ध के दौरान ओटोमैन सम्राज्य की सेना से इजराइल के शहर हायफ़ा की सुरक्षा करते हुए जानें न्यौछावर करने वाले भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजली भेंट की ।

राष्ट्रपति के साथ मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने उनको अपने सैन्य इतिहास की किताबों का एक सैट और हुशियारपुर का बना मोतियों से जड़ा लकड़ी का एक बक्सा भेंट किया । राष्ट्रपति ने अपनी तरफ़ से कैप्टन अमरिन्दर सिंह को जेरूसलम का एक बक्सा दिया ।
मुख्यमंत्री के साथ उनके मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल और प्रमुख सचिव तेजवीर सिंह शामिल थे ।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eight + nine =

Most Popular

To Top