पंजाब

मार्कफैड ने उत्तरी भारत से बाहर वडोदरा में खोला देश का पहला बिक्री केंद्र

सहकारिता मंत्री रंधावा ने वडोदरा स्थित जी.एस.एफ.सी. में मार्कफैड के बिक्री केंद्र का किया औपचारिक उद्घाटन

किसानों की बेहतरी के लिए मार्कफैड और गुजरात राज्य खाद एवं रसायन लि. मिलकर काम करेंगे: रंधावा

सहकारिता मंत्री के नेतृत्व में आया उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल जी.एस.एफ.सी. के विद्यार्थियों से हुआ रूबरू

वडोदरा/चंडीगढ़,

मार्कफैड ने अपने उत्पादों की बिक्री के लिए आज एक बड़ा कदम उठाते हुए उत्तरी भारत से बाहर वडोदरा में देश का पहला आऊटलैट खोला है। वडोदरा स्थित गुजरात राज्य खाद निगम (जी.एस.एफ.सी.) के कैंप में आज पंजाब के सहकारिता मंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने इस बिक्री केंद्र का औपचारिक उद्घाटन किया। यह बिक्री केंद्र जी.एफ.एस.सी. की तरफ से मुहैया करवाया गया है जहाँ मार्कफैड द्वारा घरेलू प्रयोग के लिए तैयार किये जाते 90 से अधिक उत्पाद मिल सकेंगे। सहकारिता मंत्री स. रंधावा ने मार्कफैड के चेयरमैन स. अमरजीत सिंह समरा, विधायक स. हरप्रताप सिंह अजनाला, पंजाब के सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री डी.पी.रैडी, और मार्कफैड  के प्रशासनिक निदेशक श्री वरुण रूज़म और जी.एस.एफ.सी. के प्रशासनिक निदेशक श्री सुजीत गुलाटी की उपस्थिति में इस बिक्री केंद्र का उद्घाटन किया। इस मौके पर वडोदरा में रह रहे पंजाबियों की भी बड़ी संख्या उपस्थित थी।  स. रंधावा ने संबोधन करते हुए कहा कि मार्कफैड के लिए यह गौरव की बात है कि जहाँ उनके खाने वाले उत्पादों की विदेशों में बिक्री होती है वहीं अब इनको देश के बाकी हिस्सों में बेचने के लिए खरीद केंद्र खोलने की आज ऐतिहासिक शुरुआत हुई है। उन्होंने कहा कि उत्तरी भारत से बाहर आज वडोदरा में देश का पहला बिक्री केंद्र खुलने से मार्कफैड ने राष्ट्रीय स्तर पर मील का पत्थर स्थापित किया है। तुरंत खाने वाले (रेडी टू ईट) उत्पादों की माँग देशभर में काफ़ी है और अब मार्कफैड की तरफ से इनकी बिक्री के लिए ‘आऊटलैट’ खोलने की शुरुआत से सहकारी क्षेत्र के अदारे मार्कफैड को अब और भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि जहाँ वडोदरा में 20 हज़ार से अधिक संख्या में रहते पंजाबियों के लिए बड़ी ख़ुशी की बात है वहीं गुजराती भी पंजाबी खाने का स्वाद ले सकेंगे। उन्होंनें कहा कि मार्कफैड के 90 उत्पादों में से शहद, बासमती चावल, साग, दाल मक्खन वाली, कढ़ी पकौड़ा, दलिया, अचार, मुरब्बे, कैचअप्प, जैम, शक्कर आदि लोगों में बहुत पॉपुलर हैं। स. रंधावा ने कहा कि खादों के क्षेत्र में जी.एस.एफ.सी. बड़ा नाम है जिससे पंजाब खादों की खरीद करता है। उन्होंने कहा कि मार्कफैड और जी.एस.एफ.सी. की सांझ किसानों के लिए लाभप्रद साबित होगी क्योंकि सहकारिता किसानी की रीढ़ की हड्डी है। उन्होंने कहा कि सहकारिता क्षेत्र में पंजाब और गुजरात की इन दोनों बड़े अदारों की तरफ से मिलकर चलने का फ़ैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि इसके इलावा गुजरात राज्य खाद एवं रसायन (जी.एस.एफ.सी.) द्वारा पंजाब के किसानों को पहुंचायी जाती एनपीके (नाईट्रोजन फॉसफोरस और पोटाश) से डी.ए.पी. का प्रयोग भी घटा है जिससे किसानी का खर्चा कम हुआ है और इससे जमीन की उपजाऊ क्षमता में वृद्धि हुई है।

उन्होंने कहा कि किसानों को पैरों पर खड़ा करने के लिए जहाँ किसानी खर्चों को घटाना पड़ेगा वहीं किसानी के साथ जुड़े सहायक धंधों से होती पैदावर वाले उत्पादों की मार्केटिंग करनी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि पंजाब और गुजरात के बीच पड़ी सांझ दोनों अदारों और किसानों के लिए लाभप्रद साबित होगी। इस मौके पर गुजरात ऐग्रोटैक (जी.ए.टी.एल.) के सी.ई.ओ. श्री एस.के. मिश्रा और मार्कफैड के अतिरिक्त मैनेजिंग डायरैक्टर श्री बाल मुकन्द शर्मा ने आपसी सहयोग के समझौते पर हस्ताक्षर किए जिसके अनुसार जी.ए.टी.एल. की तरफ से मार्कफैड के उत्पादों की बिक्री की जायेगी और इसी तरह मार्कफैड अपने बिक्री केन्द्रों से जी.ए.टी.एल. के उत्पादों की बिक्री करेगा। इससे पहले सहकारिता मंत्री स. रंधावा के नेतृत्व में पंजाब से आए प्रतिनिधिमंडल ने जी.एस.एफ.सी. यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों के साथ रूबरू सैशन करवाया गया। इस सैशन के दौरान 1954 में स्थापित हुए मार्कफैड  के अब तक के सफऱ संबंधी संक्षिप्त में डाक्यूमैंटरी भी दिखाई गई। मार्कफैड के मशहूर खाने वाले उत्पादों और ‘ऐमेज़ोन’, ‘बिगबास्केट’ और मार्कफैड के ‘सोहना’ एप के द्वारा ऑनलाईन मंगवाए जाते उत्पादों संबंधी भी जानकारी दी गई। इस सैशन के दौरान यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों ने उत्सुकता दिखाते हुए सहकारिता मंत्री से कई सवाल भी पूछे जिनका स. रंधावा ने जवाब देते हुए सहकारिता लहर से अवगत करवाया। स. रंधावा ने कहा कि हमारा मकसद किसानी और खेत मज़दूरों का भला करना है जिसके लिए सहकारिता विभाग निरंतर काम कर रहा है। जी.एस.एफ.सी. के प्रशासनिक निदेशक श्री सुजीत गुलाटी ने मार्कफैड  के गुजरात में बिक्री केंद्र खोलने का स्वागत करते हुए पूर्ण सहयोग देने का विश्वास दिलाया। उन्होंने कहा कि सहकारी क्षेत्र में यह एक नई सांझ है जिससे दोनों राज्यों और वहाँ के लोगों को फ़ायदा पहुँचेगा। अंत में पंजाब से आए प्रतिनिधिमंडल में शामिल विधायक स. हरप्रताप सिंह अजनाला ने जहाँ आज के प्रयासों के लिए मार्कफैड और जी.एस.एफ.सी. को बधाई दी वहीं विद्यार्थियों द्वारा दिखाई उत्सुकता की तारीफ़ भी की। उन्होंने कहा कि इन विद्यार्थियों को देखते हुए देश का भविष्य और किसानी सुरक्षित लगती है क्योंकि यदि विज्ञान की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी किसानों के लिए कुछ सोचते हैं तो आने वाले समय में वह किसानों के लिए बहुत कुछ करने का सामथ्र्य भी रखते हैं। इस मौके पर एमडी अमूल श्री आरएस सोढी, अतिरिक्त प्रशासनिक निदेशक मार्कफैड श्री बाल मुकन्द शर्मा, विशेष कार्य अफ़सर (खाद) श्री गगन वालिया और सीनियर मार्केटिंग मैनेजर श्री मनदीप सिंह बराड़ और जी.एस.एफ.सी. के कार्यकारी निदेशक श्री वी.डी. नानावती और श्री एस.वी.यादव भी उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

five × 2 =

Most Popular

To Top