खेल

कैप्टन अमरिन्दर सिंह प्रसिद्ध हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर को भारत रत्न देने की सिफ़ारिश करेंगे

100 प्रसिद्ध राष्ट्रीय और अंतर-राष्ट्रीय खिलाडिय़ों का महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड के साथ सम्मान
चंडीगढ़ – पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि वह तीन बार के ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता प्रसिद्ध हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर के नाम की भारत रत्न देने के लिए सिफ़ारिश करेंगे।मुख्यमंत्री आज पूर्व हॉकी खिलाड़ी को पी.जी.आई. में मिले और उनको महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड प्रदान किया जो कि बीमार होने के कारण वहां उपचाराधीन हैं। इसके बाद मुख्यमंत्री ने 100 अन्य प्रसिद्ध खिलाडिय़ों को महाराजा रणजीत सिंह अवार्ड के साथ एक समारोह के दौरान सम्मानित किया। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि इस अवार्ड को देने का कार्य तकरीबन एक दशक के समय के बाद शुरू किया गया है और इसको वार्षिक समारोह मनाया जायेगा।अवॉर्ड देने के समागम के अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि बलबीर सिंह जैसे महान हॉकी ओलम्पियनों जैसे खिलाडिय़ों ने खेल में अपना महान योगदान दिया है जिनको अपेक्षित सम्मान दिया जाना चाहिए।उपस्थितों के साथ अपने यादगारी पल सांझे करते हुए मुख्यमंत्री ने महान एथलीट मिलखा सिंह, क्रिकेट के पूर्व कप्तान बिशन सिंह बेदी, विश्व कप हॉकी के पूर्व कप्तान अजीत पाल सिंह जैसे प्रसिद्ध खिलाडिय़ों के साथ खुशी का प्रगटावा किया।मुख्यमंत्री ने कहा कि इन प्रसिद्ध खिलाडिय़ों को दिया गया अवॉर्ड नये खिलाडिय़ों को खेल में बढिय़ा प्रदर्शन दिखाने के लिए प्रेरित करेगा। यह अवॉर्ड 1978 में शुरू किया गया जिसमें 2 लाख रुपए नकद, एक ब्लेजर, एक स्करोल और महाराजा रणजीत सिंह ट्रॉफी दी जाती है जिसमें वह घोड़े पर बैठे दिखाई दे रहे हैं। इससे पहले खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने स्वागती भाषण में कैप्टन अमरिन्दर सिंह के खेल के प्रति जुनून की प्रशंसा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की दूरदर्शी और गतिशील पहुँच स्वरूप राज्य सरकार व्यापक खेल नीति अमल में लाई है। राज्य के खेल ढांचे को मज़बूत बनाने और राज्य का नाम रौशन करने वाले खिलाडिय़ों के कल्याण के लिए समेत सभी पक्षों को इस नीति का हिस्सा बनाया गया है।
खेल मंत्री ने सभी सीनियर खिलाडिय़ों और विदेशों में बसते पंजाबियों से अपील की कि राज्य के नौजवानों के खेल कौशल को तराशने के लिए सरकार के यत्नों को सहयोग करने के लिए बढ़-चढ़ कर सहयोग दिया जाये। उन्होंने कहा कि नौजवानों में छुपे हुए खेल सामथ्र्य को सही दिशा देने की ज़रूरत है और राज्य सरकार सभी खिलाडिय़ों के लिए बेहतर सुविधाएं यकीनी बनाएगी। श्री सोढी ने ऐलान किया कि प्रसिद्ध खिलाडिय़ों और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक विजेता खिलाडिय़ों को मिलती खेल पैंशन पहले की तरह जारी रहेगी जो उनसे सम्बन्धित विभागों से मिलती पैंशन से अलग तौर पर मिलती है। समागम में कैबिनेट मंत्री तृप्त रजिन्दर सिंह बाजवा, साधु सिंह धर्मसोत, मुख्यमंत्री के सीनियर सलाहकार लैफ्टिनैंट जनरल (रिटा.) टी.एस. शेरगिल्ल, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल, एम.एल.ए. प्रगट सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव खेल संजय कुमार और डायरैक्टर खेल राहुल गुप्ता और मशहूर हिंदी फि़ल्म अभिनेता रणजीत उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

5 × two =

Most Popular

To Top