क्रिकेट

भारत- वेस्टइंडीज़ के बीच दूसरा टेस्ट आज से

भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच दूसरा और आखिरी टेस्ट मैच हैदराबाद में आज से होगा शुरू। दो टेस्ट मैचों की सीरीज़ में भारत 1-0 से है आगे।

वेस्‍टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्‍ट में बड़ी जीत हासिल करने के बाद विराट कोहली की भारतीय टीम दूसरे टेस्‍ट में क्‍लीन स्‍वीप के इरादे से आज मैदान पर उतरेगी। दो टेस्‍ट मैच की सीरीज का दूसरा टेस्‍ट आज से हैदराबाद में खेला जाना है। पहला टेस्ट ढाई दिन में जीतने वाली टीम इंडिया में दूसरे टेस्ट के लिए कोई बदलाव नहीं किया गया है और 12 सदस्यीय टीम को बरक़रार रखा गया है।

पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ शानदार जीत हासिल करने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम अब शुक्रवार से शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट के लिए पूरी तरह से तैयार है। दूसरे टेस्ट के लिए विजयी टीम इंडिया में कोई बदलाव नहीं किया गया है और 12 सदस्यीय टीम को बरक़रार रखा गया है।अपने पदार्पण मैच में शतक लगाने वाले पृथ्वी शॉ भी टीम में जगह बनाने में कामयाब रहे हैं। अपने पदार्पण की राह देख रहे मयंक अग्रवाल की जगह राजकोट में शून्य पर आउट होनेवाले के एल राहुल को टीम में जगह दी गई है।राजकोट की ही तरह हैदराबाद में भी टीम इंडिया की ओर से रनों की बारिश की उम्मीद की जा रही है।वेस्टइंडीज़ के लिए कप्तान जैसन होल्डर के अनफिट होने की ख़बरों ने मुश्किलें और भी बढ़ा दी हैं।वहीं तेज़ गेंदबाज़ शैनन गैब्रिअल के खेलने पर भी संशय बरक़रार है।

भारत के लिए राजकोट टेस्ट में कपतान विराट कोहली ने भी शानदार बल्लेबाज़ी कर वेस्टइंडीज़ के लिए मुश्किलें खड़ी कर दीं वहीं युवा बल्लेबाज़ पृथ्वी शॉ ने अपने पहले ही टेस्ट में शतक  लगाकर एक बाहर फिर अपनी बेमिसाल प्रतिभा का सबूत दे दिया।पृथ्वी की पारी जहां युवा जोश से लबरेज़ थी वहीं कोहली की पारी में अनुभव का भरोसा था।और जोश और होश का ये कॉबिनेशन किसी भी विपक्षी टीम की नींदें उड़ाने के लिए काफ़ी हैं।भारत के लिए चिंता का सबब उपकप्तान अजिंक्य रहाणे का आउट आफ फॉर्म होना है। रहाणे को 2013-14 सत्र में विदेशी सरज़मी पर बेस्ट प्लेयर का खि़ताब मिला था। रहाणे ने डर्बन में 96, वैलिंगटन में 118, लॉर्ड्स में 103 और मैलबर्न में 145 रन की पारी खेली थी।.  लेकिन इसके बाद पिछले 14 महीनों में उन्होंने टेस्ट में कोई शतक नहीं लगाया है।

वहीं गेदबाज़ी की बात करें तो  मोहम्मद शमी और उमेश यादव अपनी गेंदबाज़ी को और पैना करना चाहेंगे।वहीं वेस्टइंडीज़ के पास अब कुछ भी खोने के लिए नहीं है। राजकोट में करैबियाई बल्लेबाज़ दोनों पारियों में ही लड़खड़ाते नज़र आए। पहले मैच में कीरेन पॉवेल के 83 रन और रोस्तो चेज़ के 53 रन ही वेस्टइंडीज़ के लिए उल्लेखनीय रहे।दूसरी पारी में तो वेस्टइंडीज़ के बल्लेबाज़ किसी जल्दबाज़ी में नज़र आए और सस्ते में विकेट गंवाते गए।बहरहाल हैदराबाद टेस्ट में जहां मेज़बान भारतीय टीम एक बार फिर रिकार्ड़ जीत हासिल करना चाहेगी वहीं वेस्टइंडीज़ को हरमोर्चे पर वापसी के लिए एड़ी चोटी का ज़ोर लगाना होगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

five × 2 =

Most Popular

To Top