पंजाब

नवजोत सिंह सिद्धू के पैतृक गाँव को किया जायेगा ‘मॉडल गाँव’ के तौर पर विकसित

तृप्त बाजवा ने गाँव कक्कड़वाल में सीवरेज डालने के लिए दिया 55 लाख रुपए का चैक
चंडीगढ़,
पंजाब सरकार द्वारा राज्य के गाँवों में लम्बे समय से चली आ रही गंदे पानी के निकास की समस्या से निपटने के उद्देश्य से गाँवों में सिवरेज डालने और वाटर ट्रीटमेंट प्लांट (जल उपचारक प्लांट) लगाने का फ़ैसला किया गया है। यह जानकारी ग्रामीण विकास मंत्री श्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा ने कैबिनेट मंत्री श्री नवजोत सिंह सिद्धू के पैतृक गाँव कक्कड़वाल, जो जिला संगरूर के क्षेत्र धुरी में पड़ता है, में सिवरेज डालने के लिए 55 लाख रुपए का चैक भेंट करने के बाद दी। इस मौके पर लोक निर्माण मंत्री श्री विजय इंद्र सिंगला भी मौजूद थे। श्री बाजवा ने बताया कि कुल 1.5 करोड़ की लागत वाले इस प्रोजैक्ट की पहली किश्त के तौर पर 55 लाख रुपए का भुगतान किया गया है। उन्होंने बताया कि श्री सिद्धू ने अपने पैतृक गाँव में सिवरेज सिस्टम और वाटर ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित करने के लिए विस्तृत रिपोर्ट विभाग को सौंपी थी। उन्होंने इस साल के आखिर तक इस प्रोजैक्ट के मुकम्मल होने का भरोसा भी प्रकट किया। श्री बाजवा ने आगे बताया कि पंजाब के ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा राज्य के गाँवों के सर्वपक्षीय विकास के लिए हर गाँव में सिवरेज सिस्टम और वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाने का फ़ैसला किया गया है। पहले चरण के अंतर्गत हर ब्लॉक के 5 गाँवों में काम शुरू किया जायेगा और बाद में इसको समूचे राज्य में लागू किया जायेगा।  ग्रामीण विकास मंत्री ने बताया कि उनकी तरफ से विभाग के सभी अधिकारियों को पहले हरीपुर और सीचेवाल गाँवों के विकास मॉडल का अध्ययन करने के लिए हिदायत की गई थी। विभाग के अफसरों और पंचायती राज इंजीनियरें की तरफ से उक्त गाँवों का दौरा करने के बाद और कुछ ज़रूरी बदलाव करके ही राज्य के अन्य गाँवों के लिए अब यह नये विकास मॉडल का प्रस्ताव लाया गया है। मंत्री ने आगे बताते हुए कहा कि विभाग द्वारा गाँव के तालाबों के नज़दीक जहाँ ऐसे ट्रीटमेंट प्लांट लगाए जाने हैं वहाँ पौधे लगाने का फ़ैसला भी किया गया है जिससे उपचारित पानी को इन वृक्षों के लिए और सिंचाई कार्यों के लिए भी इस्तेमाल करा जा सके।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

three − two =

Most Popular

To Top