ऊना

पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर किया शोक व्यक्त

ऊना,  ग्रामीण विकास, पंचायती राज, पशु एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के दु:खद निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। अटल बिहारी वाजपेयी का 16 अगस्त को नई दिल्ली स्थित एम्स में निधन हो गया था। वह 93 वर्ष के थे।
अपने शोक संदेश में पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी देश के ही नहीं बल्कि दुनिया के एक महान राजनेता थे। उन्होने कहा कि वाजपेयी का इस दुनिया से चले जाना देश के लिए एक अपूर्णीय क्षति है। उन्होने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी का प्रदेश के साथ विशेष लगाव रहा तथा वे हिमाचल प्रदेश को अपना दूसरा घर मानते थे। उन्होने कहा कि वाजपेयी ने हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए प्रधान मंत्री रहते हुए जहां विशेष आर्थिक मदद दी तो वही औद्योगिक पैकेज देकर प्रदेश के विकास को एक नई गति प्रदान की।
उन्होने कहा कि सामरिक दृष्टि से मनाली व लाहुल के मध्य लगभग 9 किलोमीटर लंबी बन रही सुरंग भी अटल बिहारी वाजपेयी की ही देन है। उन्होने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने अपनी दूरदर्शी सोच के चलते प्रधान मंत्री रहते हुए देश के लिए अनेक विकास योजनाओं का खाका तैयार कर उन्हे अमलीजामा पहनाया। उन्होने कहा कि प्रधान मंत्री ग्राम सडक़ योजना अटल जी के कार्यकाल की एक बडी देन इस देश के लिए रही है। जिसके कारण आज प्रदेश के छोटे से छोटे गांव सडक़ सुविधा से जुडे हैं तथा यह कार्य अभी भी जारी है। उन्होने कहा कि परमाणु विस्फोट करके पूरी दुनिया को चौंकाने वाले वाजपेयी ने यह दिखा दिया कि भारत सैन्य एवं एटमी ताकत में भी दुनिया के बडे व समृद्ध देशों के मुकाबले कमजोर नहीं है।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि देश की रक्षा के लिए शहीद होने वाले सैनिकों का पूरा राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टी हो इसकी शुरूआत भी अटल जी के कार्यकाल में ही हुई है। उन्होनेे कहा कि आज देश की सुरक्षा के लिए शहीद होने वाले वीर सैनिकों का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाता है। उन्होने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी महज एक राजनेता ही नहीं बल्कि एक अच्छे कवि व लेखक भी थे, जिन्होने अपने लेखन के माध्यम से देश को एकता के सूत्र में बांधने का हर समय प्रयास किया। उन्होने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी का निधन देश के साथ-साथ हिमाचल के लिए भी निजी तौर पर एक बडी क्षति है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

nine + twenty =

Most Popular

To Top