क्रिकेट

फखर जमान सबसे तेज 1000 रन बनाने वाले प्लेयर बने

जालन्धर : जिमबाब्वे दौरा पाकिस्तानी बल्लेबाजों के लिए ऐतिहासिक साबित होता नजर आ रहा है। दो दिन पहले ही पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज फखर जमान ने पाकिस्तान की ओर से पहला दोहरा शतक लगाया था, अब सीरीज के पांचवें और आखिरी मैच में 85 रन बनाने वाले फखर वनडे में सबसे तेज 1000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। फखर ने वैस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर विवियन रिचड्र्स का रिकॉर्ड तोड़ा। विवियन ने 1980 में 21 पारियों में 1000 रन बनने का कारनामा किया था। इसके बाद इंगलैंड के केविन पीटरनसन, इंगलैंड के जॉनाथन ट्रॉट, साऊथ अफ्रीका के क्वांटिक डी-कुक और पाकिस्तान के बाबर आजम ने भी 21 पारियों में 1000 रन पूरे करने का का कारनामा किया था। अब फखर जमान के खाते में 18 मैच खेलकर 1065 रन हो गए हैं। इस दौरान उन्होंने चार शतक और 5 अर्धशतक लगाए हैं।
बता दें कि सीरीज के चौथे मैच में फखर ने 156 गेंदों में नाबाद 210 रनों की पारी खेली थी। वे वनडे में दोहरा शतक जडऩे वाले पहले पाकिस्तानी खिलाड़ी बन चुके हैं। उनसे पहले पाकिस्तान की ओ से यह रिकॉर्ड सईद अनवर के नाम पर था। अनवर ने भारत के खिलाफ 194 रन की पारी खेली थी।फखर जमान पांच मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले प्लेयर भी बने
फखर जमान इसके साथ ही 5 मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा (515) रन बनाने वाले पहले प्लेयर बन गए हैं। फखर ने जिम्बाव्वे के खिलाफ मैच दौरान पांच में से तीन बार नॉटआऊट रहते 210 के सर्वोच्च स्कोर के साथ 515 रन बनाए हैं। उनकी औसत 257.50 चल रही है जबकि उन्होंने 111 की स्ट्राइक रेट के साथ रन बनाए। सीरीज में फखर ने दो शतक और दो अर्धशतक भी लगाए हैं। उनके बल्ले से इस दौरान 65 चौके तो 6 छक्के भी निकले।
जमान ने ऐसा कर पांच मैचों की सीरीज के जिम्बाब्वे के मस्काजदा का रिकॉर्ड तोड़ा। मस्काजदा ने 2010 में कीनिया के खिलाफ पांच मैच खेलते हुए 467 रन बनाए थे। बता दें कि ओवरऑल किसी सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड अभी भी ऑस्ट्रेलिया के ग्रेग चैम्पल के नाम पर है। चैम्पल ने 1980 में ऑस्ट्रेलिया, इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच हुई त्रिकोणीय सीरीज के दौरान 14 मैच खेलकर 686 रन बनाए थे। चैम्पल ने इस दौरान एक शतक और पांच अर्धशतक भी लगाए थे।
वल्र्ड कप में सर्वाधिक रन का रिकॉर्ड है सचिन के नाम
वल्र्ड कप में सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अभी भी सचिन तेंदुलकर के नाम पर है। तेंदुलकर ने 2003 के वल्र्ड कप में 11 मैच खेलते हुए 673 रन बनाए थे। इसमें एक शतक और छह अर्धशतक भी शामिल था।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

18 + 17 =

Most Popular

To Top