पंजाब

पंजाब में फार्मास्यूटीकल के अग्रणी क्षेत्र के तौर पर हुई पहचान- रजत अग्रवाल

फार्मास्यूटीकल उद्योग को प्रफुलित करने के लिए इनवैस्ट पंजाब द्वारा करवाया गया विचार-विमर्श
चंडीगढ़ – पंजाब के पास फार्मास्यूटीकल क्षेत्र में अपार संभानाएं मौजूद हैं और इन संभावनाओं को सही अर्थों में लाभ लेने के लिए राज्य सरकार फार्मास्यूटीकल पार्क विकसित करने के मौके तलाश रही है जिससे इस क्षेत्र को और प्रफुलित किया जा सके।इन विचारों का प्रगटावा इनवैस्ट पंजाब के मुख्य कार्यकारी अफ़सर श्री रजत अग्रवाल ने आज विभिन्न भाईवालों के साथ विचार-विमर्श के दौरान किया। इस मौके पर श्री अग्रवाल की तरफ से एडवांस पंजाब के अंतर्गत औद्योगिक क्षेत्र को प्रदान की नयी लाभदायक नीतियाँ, लेबर का आपसी व्यवहार, 5 रुपए की दर से 24 घंटे बिजली की सुविधा, मज़बूत ढांचा आदि को उभारती हुई एक विस्तृत पेशकारी भी दी। इस मीटिंग में पंजाब में फार्मा क्षेत्र में नयी संभावनाओं तलाशने के लिए एक कच्चा मसौदा तैयार करने के इरादे के तौर पर की गई।इस सम्बन्धित और अधिक जानकारी देते हुए श्री अग्रवाल ने बताया कि फार्मा क्षेत्र राज्य में एक अग्रणी क्षेत्र के तौर पर उभर रहा है क्योंकि पंजाब के पास सनफर्मा, नैक्टर लाईफ़ साईंसेस, आई.ओ.एल. कैमीकलज़ आदि जैसी बड़ी कंपनियाँ मौजूद हैं। इसके इलावा राज्य के पास एन.आई.पी.आर, पी.जी.आई, आई.एन.एस.टी,आई., आई.आई.एस.ई.आर. जैसे कई मशहूर खोज केंद्र और शैक्षिक अदारे भी मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा औद्योगिक नीति 2017 की शुरुआत की गई है जो इस क्षेत्र में निवेश करने वालों के लिए अच्छे वित्तीय लाभ प्रदान करेगी।इस मौके पर दूसरो के इलावा यूनाईटेड बायोटैक (पी) लिम., थ्युन फार्मासूटीकल और यूनीसन फार्मासूटीकलज़ के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

thirteen − eleven =

Most Popular

To Top